WHO WE ARE

WHO WE ARE

आत्मनिर्भर भारतीय

माँ-बाप से बढ़कर दुनिया में मेरा कोई भगवान नहीं,

चुका पाऊँ जो उनका ऋण इतना मैं धनवान नहीं।

Nothing is better than your mother & father in this world

आत्मनिर्भर बनिए, आत्मविश्वास जगाएँ,आत्मज्ञान से खुदको पहचानकर तरक्की की राह पे अपना पहला कदम बढ़ाएं।

close